bewafa shayari in hindi 2018

 Bewafa Shayari In Hindi 2018



Bewafa
छोड़ दिया उसने मुझे शायद यही उसकी फितरत है
कुछ पल का उसका प्यार ही मेरे लिए इबादत है
वो ना मिले मुझे तो हम मर के दिखा देंगे
उनके लिए मेरे दिल में कितनी मोहब्बत है



Bewafa Shayari

धड़कने तेज हो जाती है जब तुम्हारी याद आती है
ऐसा Feel होता है कि सामने खड़ी नजर आती है
जब छोड़ जाना ही था तो यादे भी साथ ले जाती
क्योंकि ये हवाएं भी तेरे होने का एहसास दिलाती है



Best Bewafa Shayari

यादों को उनके सीने से लगा रखा है
किस जालिम से हमने दिल लगा रखा है
वो आएंगे इन्ही राहों से, मेरे मरने के बाद
इस नादान दिल ने ये आस लगा रखा है



Bewafa Shayari

गलती हो गयी हमसे बहुत भारी सनम
ना चाहते हुए भी हम तुमसे प्यार करने लगे
बहोत रोका था दोस्तों ने हमें ना कर मोहब्बत
ना जाने क्यों तुम पे एतबार करने लगे




उसने मुझे बेवफा का नाम दे दिया
हाथों में मेरे जहर का जाम दे दिया
जो कहते थे कभी भूल नहीं पाएंगे आपको
आज उसने ही भूल जाने का पैगाम दे दिया




कुछ वक्त गुजारा तन्हाई में तो कुछ यादें ताजा हो गयी
मिल गया तुम्हे कोई और फिर ऐसे ही बेवफा हो गयी
तुम्हारा नाम लिखा था दिल पे अपने बड़े प्यार से
आखिर कैसे तुम हमेशा के लिए हमसे जुदा हो गये




मानता हूं कि मैं हर कोई बेवफा नहीं हो सकता
मगर मेरी तरह हर कोई नहीं खोता
सच है कि मुझको अगर गम नहीं मिलते 
तो शायद इस दुनिया में मै नहीं होता




छोड़ दिया हमने भी उनका दीदार करना
उस जालिम बेमरौअत पे अब एतबार करना
हम जैसे जी रहे है तन्हाई में यारो 
खुश रहना है तो यार प्यार मत करना




जब जानते है कि मोहब्बत करना गुनाह है।
तो ये गुनाह बार - बार क्यों करते है लोग
जब जानते है की वो बेवफा हो जाएंगे 
तो उन पे इतना एतबार क्यों करते है लोग




कैसे समझाता इस दिल को जब दिल जानता ही नहीं था
तुम बेवफा हो गए हो ये दिल मानता ही नहीं था
बड़ी  मुश्किलो से संभाला था खुद को, गिरने के बाद
तन्हा छोड़ जाओगे भरी महफ़िल में, सोचा ही नहीं था




वो गुजरते नहीं कभी हमारी राहों से
लोग बदनाम ना कर दे, देखती नहीं निगाहों से
अपनी लूटी दुनिया के लिए मैं किसको बदनाम करूँ
तेरी बेवफाई के चर्चे आखिर कैसे मैं सरेआम करू

Post a comment

0 Comments